नवरात्र 10 दिन के, 427 साल बाद बना है ग्रहों का ऐसा शुभ योग

569
माता की आराधना का पर्व शारदीय नवरात्र इस बार 9 नहीं 10 दिन तक मनाया जाएगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. अमर डिब्बावाला के अनुसार, इस बार शारदीय नवरात्र का प्रारंभ 1 अक्टूबर, शनिवार से हो रहा है, जिसका समापन 10 अक्टूबर, सोमवार को होगा।
नवरात्र में तिथि की वृद्धि होने से देवी आराधना एक दिन ज्यादा होगी। यह संयोग शुभ फलदायी है। नवरात्र में तृतीया तिथि दो दिन 3 से 4 अक्टूबर तक रहेगी। इसलिए नवरात्रि नौ की बजाए 10 दिन की होगी। ग्यारहवें दिन 11 अक्टूबर को दशहरा मनाया जाएगा।
सालों पहले जैसे 7 ग्रह भी उन्हीं राशि में
457 साल पहले जब नवरात्र की तिथियों में घट-बढ़ की स्थिति बनी थी। और उस समय नौ में से सात प्रमुख ग्रहों की जो स्थिति थी। वह 2016 में इस समय भी वैसी ही है। सूर्य व गुरु कन्या राशि में, शुक्र तुला राशि में, मंगल धनु राशि में, केतु कुंभ राशि में और राहू व बुध सिंह राशि में विद्यमान है।
 

नवरात्र में किस तिथि पर कौन सी देवी की पूजा करें, ये जानने के लिए आगे की स्लाइड्स पर क्लिक करें-तस्वीरों का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।